There are no advertisements in the Raipur yet
https://avalanches.com/in/raipur__1902103_16_11_2021

एकॉस्टिक उत्सव का जन्म २१ नवंबर २००३ को हुआ था, उनका जन्म मध्य प्रदेश, भारत के सतना शहर में हुआ था, एक भारतीय गायक और, रिकोडर, मिक्सर, और गीतकार, संगीतकार हैं। वह कवर आर्टिस्ट भी हैं जो कवर गाने भी करते हैं, उन्हें उनके गायन के लिए जाना जाता है, उनके पिता रामनरेश सेन, उच्च न्यायालय हाई कोर्ट में काम करते हैं, उनकी माँ, उषा सेन, और केवल एक सबसे छोटा भाई, उज्जवल सेन है, एकॉस्टिक उत्सव २०२१ में स्कूल खत्म करने के बाद, वो संगीत और अपनी पढ़ाई शुरू कर दी और वे लंबे समय से यूट्यूब में काम कर रहे है, और उनके कवर बहुत अच्छे हैं और उनके पसंदीदा गायक दर्शन रावल,अरमान मलिक,अरिजीत सिंह और सोनू निगम है। और उन्होंने अपने चैनल में सर्वश्रेष्ठ अनप्लग्ड कवर अपलोड किए हैं और रॉ कवर, उनके चैनल का नाम एकॉस्टिक उत्सव हैं।

Show more
0
18

ONE MYSTERY

The island of Dolls is the one place where is the most horror topics have been existing. In 1850 the place was named 'island of dolls'. The place has plenty of roots depth in it. The island exist in mexico city, where thousands of dolls hang from the trees.

There is a lot of discussions about the island. From thousand of years the decayed dolls are there. As a matter of fact it is said that Santana Barrera the caretaker of that place had hung the dolls to the trees.Many years ago, a small girl drowned to nearby river. The girl's dead body was flowing in the water with her doll. Santana Barrera saw them and took the doll and swing it on the tree. It is believed that the girl's soul is there in the doll.At that time Santana Barrera heard voices coming out.He ignored some times.Then Santana heard it and understood that it is surely connected to soul.He did prayers for whatever was happening will not come again.He workshhiped god.But no the words and tone were still there.

The person Santana then dangle many such dolls on the trees.He collect dolls from here and there and from garbages.In this way he continuously did this work till he survives.And today a lot of scary looking dolls are there.Main thing of the island is that it is said that voices come out of the dolls. They speak, laugh and whisper.People

living there have heard it many times.

It is a big riddle that how can a doll can speak and laugh,the girl's soul is there or not.A lot of question raises when a person think of that.And today it has become tourist attraction place.But before this place became tourist attraction, it's history is some more interesting and terrifying also.It could be possible if the place is haunted or some negative energy exist there.It can be rumour also.There are chances that there is no negative thing there and people of that area or someone else are creating terror on it.

When a spot or location becomes mute or dark it automatically becomes haunted, fear and terror also takes place, according to Hindu Scriptures,when a place is totally silent or no human activities takes place in it,automatically it is captured by negative energies.Or some negative incident had took place on that site, then it is possible that those energies are reacting.Santana Barrera died in 2001 of heart attack.

In present times 'island of dolls' has become a tourist place.From long time peoples have been visiting the island from different places.Some person visit and tries to listen the doll's sound.They also tried to record it with gadgets,then whisper and laugh came out of dolls.

But big mystery is that, is really some fear factor is existing there or really the girl's soul is there which reacts.

The mystery is still unsolved.

Name - Nain

Age - 22

Show more
0
10

ONE MYSTERY

The island of Dolls is the one place where is the most horror topics have been existing. In 1850 the place was named 'island of dolls'. The place has plenty of roots depth in it. The island exist in mexico city, where thousands of dolls hang from the trees.

There is a lot of discussions about the island. From thousand of years the decayed dolls are there. As a matter of fact it is said that Santana Barrera the caretaker of that place had hung the dolls to the trees.Many years ago, a small girl drowned to nearby river. The girl's dead body was flowing in the water with her doll. Santana Barrera saw them and took the doll and swing it on the tree. It is believed that the girl's soul is there in the doll.At that time Santana Barrera heard voices coming out.He ignored some times.Then Santana heard it and understood that it is surely connected to soul.He did prayers for whatever was happening will not come again.He workshhiped god.But no the words and tone were still there.

The person Santana then dangle many such dolls on the trees.He collect dolls from here and there and from garbages.In this way he continuously did this work till he survives.And today a lot of scary looking dolls are there.Main thing of the island is that it is said that voices come out of the dolls. They speak, laugh and whisper.People

living there have heard it many times.

It is a big riddle that how can a doll can speak and laugh,the girl's soul is there or not.A lot of question raises when a person think of that.And today it has become tourist attraction place.But before this place became tourist attraction, it's history is some more interesting and terrifying also.It could be possible if the place is haunted or some negative energy exist there.It can be rumour also.There are chances that there is no negative thing there and people of that area or someone else are creating terror on it.

When a spot or location becomes mute or dark it automatically becomes haunted, fear and terror also takes place, according to Hindu Scriptures,when a place is totally silent or no human activities takes place in it,automatically it is captured by negative energies.Or some negative incident had took place on that site, then it is possible that those energies are reacting.Santana Barrera died in 2001 of heart attack.

In present times 'island of dolls' has become a tourist place.From long time peoples have been visiting the island from different places.Some person visit and tries to listen the doll's sound.They also tried to record it with gadgets,then whisper and laugh came out of dolls.

But big mystery is that, is really some fear factor is existing there or really the girl's soul is there which reacts.

The mystery is still unsolved.

Name - Nain

Age - 22

Show more
0
20
https://avalanches.com/in/raipur__sp_1296022_05_02_2021

SP ऑफिस में पदस्थ हेड कांस्टेबल की हार्ट

अटैक से मौत

रायपुर: एसएसपी ऑफिस में पदस्थ हेड कांस्टेबल की गुरुवार को हार्ट अटैक से मौत हो गई। बताया जा रहा है कि ड्यूटी के दौरान तबीयत बिगड़ने पर अस्पताल ले जाया जा रहा था। इस बीच रास्ते में हेड कांस्टेबल ने दम तोड़ दिया। मृतक हेड कांस्टेबल का नाम राम प्रसाद साहू है। हेड कांस्टेबल राम प्रसाद साहू एसएसपी ऑफिस के शिकायत शाखा में पदस्थ थे। ड्यूटी के दौरान उन्हें हार्ट अटैक आ गया था।

Show more
0
32
https://avalanches.com/in/raipur__read_more_1193853_06_01_2021

IRON ORE : Maximizing Production from Odisha & Challenges Ahead

0
31
https://avalanches.com/in/raipur__4_1095152_08_12_2020

बारतियों से भरी पिकअप के पलटने से 4 की मौत कई अन्य घायल... पिकअप चालक फरार


अंबिकापुर :- बीती रात बारतियों से भरी एक पिकअप अनियंत्रित होकर पलट गई । पिकअप के पलटने से घटना स्थल पर 3 लोगो की मौत हो गई वहीं 18 वार्षीय बालिका की मौत अंबिकापुर अस्पताल में हुई हैं । वहीं कई अन्य के गंभीर रूप से घायल होनें की खबर हैं । सभी घायलों को अंबिकापुर मेडिकल अस्पताल मे भर्ती करा दिया गया हैं ।

प्राप्त जानकारी के अनुसार थाना धौरपुर अंतर्गत बरडीह के ग्रामीण शादी में एक पिकअप में सवार होकर सेमरडीह गए हुई थे । बारतियों से भरी पिकअप लौटते वक़्त बरडीह के पास अनियंत्रित होकर पलट गई। घटना के दौरान 4 लोगों की मौत हो गई जिसमें 2 पुरुष 1लड़का और 1लड़की शामील है।

पिकअप में कुल 15 लोगों के सवार होनें की खबर हैं । वहीं घटना के बाद पिकअप चालक रुद्रनारायण फरार हैं ।

घायलों को अंबिकापुर मेडिकल अस्पताल मे रात करीबन 2बजे भर्ती करा गया जहाँ उनका इलाज चल रहा हैं । मामले की पुष्टि धौरपुर थाना प्रभारी ने की हैं ।

Show more
0
21
https://avalanches.com/in/raipur__5_4_1090542_06_12_2020

5 लाख की डकैती मामले में सरगुजा पुलिस ने किया खुलासा... 4 आरोपियों को पुलिस ने किया गिरफ्तार 1 की तलाश जारी ... दो बाईक,1देशी कट्टा,1चाकू व 40 हजार रूपये नगद बरामद


अंबिकापुर :- 5 लाख की डकैती मामले में पुलिस ने वारदात के एक सप्ताह के अंदर 4 आरोपियों को गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की है । वहीं वारदात को अंजाम देने वाला मास्टर माइंड आरोपी फरार है । मामले का खुलासा करते हुए सुरगुजा पुलिस अधीक्षक टी. आर कोशिमा ने प्रेस कॉन्फ्रेंस के माध्यम से बताया कि आरोपियों की पहचान रवि घसिया, शहबाज खान उर्फ मोन्टी, शिव पटेल, मुकेश पटेल और लाल प्यारे यादव लुण्ड्रा निवासी के तौर पर हुई है। जो लुण्ड्रा थाना क्षेत्र के अलग-अलग गांवों के निवासी हैं। और इन आरोपियों ने सुनियोजीत प्लान के तहत डकैती की घटना को अंजाम दिया था।


प्राप्त जानकारी के अनुसार 29 नवम्बर कि शाम 6 से 7 बजे के बीच लुण्ड्रा थाना के ग्राम ड़कई के अर्जुन गुप्ता के घर में स्थित बंद किराना दुकान को पेट्रोल लेने के बहाने दुकान खुलवाकर कट्टे की नोक पर लूट की घटना को अंजाम दिया गया था । इस वारदात में आरोपियों द्वारा 3 लाख नगद और डेढ़ से दो लाख के जेवर की लूट की थी । जिसके बाद पुलिस ने अपराध पंजीबद्ध करते हुए लगातार आरोपियों की तलाश कर रही थी । अधिकारी ने बताया कि खुफिया तकनीक की मदद से खाराकोना निवासी रवि घसिया जिसके इस वारदात में शामिल होने की सूचना प्राप्त हुई थी जो लगातार फरार चल रहा था । वहीं पीड़ित के द्वारा बताए गए हुलिया से भी मिल रहा था । जिसके बाद पुलिस ने आरोपी के घर में दबिश दी तो पता चला कि रवि घसिया अंबिकापुर गया है साथ ही उसे अंबिकापुर में देखे जाने कि सूचना मिली जिसपर पुलिस की टीम ने घेराबंदी कर आरोपी रवि घसिया को अंबिकापुर के घड़ी चौक से गिरफ्तार कर लिया । पकडे गए आरोपी रवि बताया कि उसी ने अपने 4 साथी के साथ मिलकर घटना को अंजाम दिया है । आरोपी रवि ने बताया कि वारदात के बाद सभी बरगीडीह हाई स्कूल के पास मिले जहाँ लाल प्यारे यादव लुटे हुए रकम में से मात्र 40 हजार रूपये मोंटी खान को दिया और शेष रकम और जेवरात लेकर चला गया । आरोपी रवि की निशांदेही पर पुलिस ने शहबाज उर्फ मोन्टी, शिव पटेल, मुकेश पटेल को गिरफ्तार कर लिया हैं । इन आरोपियों के पास से पुलिस ने दो बाईक,1देशी कट्टा,1 चाकू व 40 हजार रूपये नगद बरामद किया हैं । वहीं वारदात का मास्टर माइंड लालप्यारे यादव फरार हैं जिसकी तलाश जारी हैं । वारदात में शामिल सभी आरोपी जेल से छूटे हैं और हार्ड कोर अपराधी के श्रेणी में आते हैं ।

Show more
0
39
https://avalanches.com/in/raipur__1085205_05_12_2020

शादी का झांसा देकर एक साल तक लिव-इन में किया दुष्कर्म... आरोपी को पुलिस ने किया गिरफ्तार


रायपुर:- रायपुर के तेलीबांधा थाना अंतर्गत एक दिव्यांग महिला के साथ लिव इन में युवक ने शादी का झांसा देकर एक साल तक दुष्कर्म करने का मामला सामने आया है। पीड़िता की शिकायत पर पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है ।


प्राप्त जानकारी के मुताबिक, जांजगीर चांपा निवासी द्वारा एक दिव्यांग युवती जो रायपुर में किराए के मकान में रहती है। युवती की जून 2019 में बनारस निवासी सत्येंद्र गिरी 30 वर्ष से फेसबुक पर दोस्ती हुई थी। इसके बाद दोनों के बीच मोबाइल पर भी बात होने लगी। युवती ने अपने दिव्यांग होनें के बारे मे बताए जाने के बावजूद भी सत्येंद्र ने शादी के लिए मिलने की इच्छा जताई और रायपुर आ गया। सत्येंद्र 2019 में उससे मिलने आया और कहा कि उसके रुकने की कोई जगह नहीं है। इस पर युवती ने उसके अपने ही घर में रुकने की व्यवस्था कर दी। युवती का आरोप है कि उसकी दिव्यांग होने का फायदा उठाकर सत्येंद्र ने दुष्कर्म किया। युवती ने जब पुलिस के पास जाने की बात कही तो सत्येंद्र ने उसे शादी का प्रलोभन दिया। उसकी बातों में युवती आ गई और वह साथ ही रहने लगा। पर जब युवती को यह पता चला की आरोपी शादीशुदा और एक बच्ची का पिता भी हैं । इसके बाद युवती थाने पहुंची और आरोपी के खिलाफ FIR दर्ज कराया।

तेलिबाँधा पुलिस ने मामले मे धारा 376 क़ायम करते हुए आरोपी युवक को शुक्रवार को रिमांड पर भेज दिया । मामले की पुष्टि तेलिबाँधा थाना प्रभारी विनीत दुबे ने की हैं ।

Show more
0
57
https://avalanches.com/in/raipur__1081753_04_12_2020

अंबिकापुर मेडिकल अस्पताल में इलाज करा रहें दो मासूमों की मौत ...मातृछाया सेवा भारती समिति सवालों के घेरे में


अंबिकापुर - अंबिकापुर मेडिकल अस्पताल में दो बच्चों की मौत हो गई है। वही दोनों बच्चों की उम्र 3 माह और 4 माह का होना बताया जा रहा हैं । इस घटना के बाद मातृछाया सेवा भारती कई सवालों के घेरे में आ गई है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार अंबिकापुर मेडिकल कॉलेज अस्पताल में इलाज के दौरान माह और 4 माह के दो मासूम की मौत हो गई । दोनों बच्चे अंबिकापुर के सेवा भारती मातृछाया में रहते थे , जिनकी तबीयत खराब होने पर मेडिकल कॉलेज अस्पताल में भर्ती कराया गया था। जहां आज इलाज के दौरान दोनों बच्चों की मौत हो गई है।सेवा भारती मातृछाया में समन्वयक के पद पर पदस्थ सोमेश्वर ने बताया कि दोनों बच्चों को कोरिया जिले के बाल कल्याण समिति के आदेश से अंबिकापुर सेवा भारती मातृछाया में लाया गया था, जहां दोनों बच्चों की तबीयत अचानक खराब होने पर मेडिकल कॉलेज अंबिकापुर में भर्ती कर इलाज की जा रही थी। इन बच्चों की मौत के मामले में पुलिस ने पंचनामा कार्रवाई करते हुए शव का पोस्टमार्टम कार्यवाही शुरू कर दी है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने पर बच्चों की मौत का कारण स्पष्ट हो पाएगा।


Show more
0
29
https://avalanches.com/in/raipur__1078806_03_12_2020

धरमजयगढ़ क्षेत्र में हाथियों का दो दल हुआ इकठ्ठा और बना महादल...डरे सहमे हुए हैं क्षेत्र के किसान


रायगढ़:- धरमजयगढ़ मुख्यालय के समीपवर्ती गांव की जनता जंगली हाथियों के दो दल के इकठ्ठा होने की खबर सुनकर काफी दहशत में हैं।प्राप्त डेटा के मुताबिक गजराजों का दो दल एक साथ एकत्रित होकर धरमजयगढ़ से लगे गांवों में उन्मुक्त रूप से भ्रमण कर रहे हैं।

यही कारण है के नजदीकी जंगल तथा आसपास के कई गांवों में जंगली अतिकायों का दहशत चरम पर है. हाथियों के इस महादल ने पिछले कई दिनों से किसानों की कई एकड़ फसल को बर्बाद कर दिया है।आज तक क्षेत्र के मजबूर लाचार किसानों को हाथियों की आमद का खामियाज़ा भुगतना पड़ रहा है।

हालांकि वन विभाग द्वारा इन पीड़ित किसानों को मुआवजा बेशक जरूर मिलता है लेकिन सिमित अल्प मुआवज़े से किसान बंधुओं को ज़्यादा राहत नहीं मिल पाता है.। बहरक़ैफ़ राहत की बात यह है कि अभी तक जंगली हाथियों के दल ने कोई जनहानि नहीं किया है। कल शाम को दर्रीडीही जंगल में हाथियों के दो दल आपस में मिल गये हैं। जो रात तक ग्राम दर्रीडीही, शेरबन,सहोत ग्राम खलबोरा के जंगलों में घूम रहे हैं।वहीँ सुबह मिली जानकारी के मुताबिक घुमनारा, बगबुड़ा के जंगलों में हाथियों के झुण्ड देखे गये। आपको बता दें हाल में हाथियों के महादल की आमद से ग्राम ओंगना, खलबोरा, पोटिया, हिम्मतपुर तथा खरामुड़ा इलाके के लोग बेहद दहशत में है। ग्रामीणों ने बताया कि जंगली हाथियों का यह झुंड जब कभी भी किसी गांव में प्रवेश करता हैं तो न सिर्फ ग्रामीणों के घर में रखे अनाज को खा जाते हैं. बल्कि उनके आशियानों को भी उजाड़ देते हैं। खेतों में लगी सैकड़ों एकड़ फसल को तो पहले ही बर्बाद कर चुके हैं।

Show more
0
30
https://avalanches.com/in/raipur__1078805_03_12_2020
https://avalanches.com/in/raipur__1078805_03_12_2020

राष्ट्रपति का दत्तक पुत्र फांसी के फंदे पर ....पीएम रिपोर्ट के बाद ही मौत के कारण का हो पायेगा खुलासा


धरमजयगढ़ :- खबर है के राष्ट्रपति के दत्तकपुत्र माने जाने वाले विशेष पिछड़ी जनजाति पंडो समुदाय का एक वृद्ध घर के म्यांर में फांसी के फंदे में झूल गया। घटना की सूचना पर धरमजयगढ़ पुलिस मौके पर पहुंच फंदे से लटके वृद्ध को नीचे उतारकर शव का पंचनामाकर बॉडी को पोस्टमार्टम के लिए रवाना की,वृद्ध की मौत की वजह फिलहाल अज्ञात है लिहाजा पुलिस परिजनों से पूछताछ कर आगे की जांच कार्यवाई में जुट गई है।


प्राप्त जानकारी के अनुसार धरमजयगढ़ थाना क्षेत्र के रामपुर गांव में बीती रात अज्ञात कारणों से एक पंडो समुदाय का सुखदेव नामक वृद्ध अपने ही घर के म्यांर में लुंगी से फांसी के फंदे में झूलता मिला । जैसे ही गांव मोहल्ले में फांसी घटना की जानकारी हुई मातम के साथ-साथ भय का माहौल निर्मित हो गया।

मृतक सुखदेव पंडो की पत्नी फुलमेत की माने तो बिती रात दोनो खाना खाकर घर में सोये थे और सुबह उठकर अपने अपने दैनिक कार्यो में लग गए कुछ घंटों बाद जब सुखेदव कहीं दिखा नही तब घर का दरवाजा खोलकर देखा गया तो सुखदेव घर के ऊपर म्यांर में लुंगी से फांसी के फंदे में झूल रहा था। फांसी की बात पूरे गांव, मोहल्ले में आग की तरह फैल गई,घर के पास लोगों का जमावड़ा हो गया । उसके बाद गांव के कुछ लोगों द्वारा घटना की जानकारी पुलिस थाना धरमजयगढ़ में दी गई।

सूचना पर पुलिस मौके में पहुंच घटना स्थल व शव का मौका मुआयना कर मर्ग कायम करते हुए आगे की जांच कार्यवाई में लग गई है।

आपको बता दें,राष्ट्रपति के दत्तक पुत्र माने जाने वाले विशेष पिछड़ी जनजाति पंडो समुदाय के व्यक्ति द्वारा आत्महत्या करना प्रशासन के लिए भारी चिंताजनक है अल्प संख्या में पाए जाने वाले इन जनजाति की रक्षा करना.इनको विकास की मुख्यधारा से जोड़ना प्रशासन की महत्वपूर्ण जवाबदारी है। बहरे कैफ सुखदेव पंडो की मौत की वजह अभी अज्ञात है पोस्टमार्टम रिपोर्ट व पुलिसिया जांच बाद ही मामला साफ हो पायेगा ।

Show more
0
45
https://avalanches.com/in/raipur__1077744_03_12_2020

बोले मंत्री अमरजीत भगत किसानों पर लाठीचार्ज और वाटर कैनन के इस्तेमाल से किसान हितैसी मोदी सरकार का असली चेहरा उजागर


अंबिकापुर :- केंद्र सरकार के कृषि कानून का विरोध कर रहे पंजाब और हरियाणा के किसानो पर लाठीचार्ज और वाटर कैनन चलाने के बाद छत्तीसगढ़ केबिनेट मंत्री अमरजीत भगत ने कहा कि किसानो पर इस तरह के हथकंडे अपनाकर मोदी सरकार ने साबित कर दिया कि उनकी सरकार किसानों की कितनी हितैसी हैं । और अब किसानों की हितैसी मोदी सरकार का असली चेहरा भी उजागर हुआ हैं । भगत ने कहा कि किसानो के ऊपर यह एक प्रकार की जातती हैं अगर किसान अपने मांग के लिए लड़ रहे हैं तो उन्हें शांतिपूर्वक आंदोलन करने देना चाहिए। उनपर लाठीचार्ज और पानी की बौछार समस्या का हल नहीं हैं ।

आपको बता दे कि केंद्र सरकार के कृषि कानून संशोधन बिल का विरोध करते हुए पंजाब और हरियाणा के किसानों पर पानी की बौछार किया गया इतना ही नहीं पुलिस द्वारा किसानों पर आंसू गैस के गोले छोड़े गए हैं। अंबाला पटियाला बॉर्डर पर दिल्ली पुलिस ने कुछ ट्रकों को खड़ा कर किसानो को रोकने का प्रयास किया ताकि वे आगे ना आ सके। लेकिन यह तो तय है कि कृषि संसोधन बिल के मुद्दे पर केंद्र सरकार घिर गईं है। और सरकार को किसानो का पुरजोर विरोध झेलना पड़ हैं ।

Show more
0
40
https://avalanches.com/in/raipur__1074167_02_12_2020

नकाबपोश युवकों ने किया अपहरण और फिर कर दी हत्या ....जमीन विवाद को लेकर हुई हत्या

Roshan


अम्बिकापुर :- अंबिकापुर के गांधीनगर थाना क्षेत्र अंतर्गत एक युवक का अपहरण 3 दिन पहले किया गया था जिसका शव पुलिस ने आज जंगल से बरामद किया है । पुलिस के अनुसार यह हत्या जमीन विवाद को लेकर हुई हैं । हत्या के सभी आरोपी फरार हैं ।


प्राप्त जानकारी के अनुसार गांधीनगर थाना क्षेत्र अंतर्गत ग्राम खलीबा में एक व्यक्ति का शव पुलिस ने आज बरामद की हैं । मृतक रामकृपाल साहू 3 जो अंबिकापुर गांधीनगर निवासी विगत 3 दिनों से लापता था । परिजनों द्वारा सोमवार को थाना गांधीनगर में युवक की लापता की रिपोर्ट दर्ज कराने के बाद हरकत में आई पुलिस ने जाँच के दौरान युवक का लाश कुल्हाड़ी के जंगल से बरामद की । दरअसल मृतक रामकृपाल साहू सोमवार की दोपहर लगभग 2 बजे गांधीनगर स्थिति अपने निवास से ग्राम खलीबा में धान मिसाई का कार्य कर रहे मजदूरों को खाना पहुंचाने गया था, जिसके बाद से वह घर वापस नहीं लौटा । वहीं परिजनों का कहना है कि खलीबा गांव के ही तीन नकाबपोश युवक मौके पर पहुंचे और उसकी पिटाई कर जबरन उसे अपने साथ ले गए। जब इस बात की सूचना परिजनों को लगी तो उन्होंने गांधीनगर थाने में शिकायत दर्ज कराया। पुलिस को जांच के दौरान पता चला है कि गांव के तीन युवक इस घटना के बाद से लापता है । और उनके द्वारा ही इस वारदात को अंजाम दिया गया है। वहीं पुलिस की टीम ने जाँच के दौरान के जंगल से युवक की लाश बरामद की । पुलिस के अनुसार मृतक जमीन की खरीदी

बिक्री का काम करता था। वहीं पुलिस जाँच में जुटी हैं ।

Show more
0
17
Other News India